छप्परफाड़ कमाई के लिए किसान जल्द शुरू करे संतरे की खेती, जानिए उन्नत किस्मे और खेती की प्रोसेस

छप्परफाड़ कमाई के लिए किसान जल्द शुरू करे संतरे की खेती, जानिए उन्नत किस्मे और खेती की प्रोसेस

संतरे की खेती: किसान भाइयो क्या आप भी उन्नत खेती कर अच्छा मुनाफा कमाने की सोच रहे है तो आज ये आर्टिकल आपके लिए बेहद फायदेमन्द होगा, इसमें हम आपको बतायेगे की आप खेती कर कैसे अच्छा भारी मुनाफा कमा सकते है।

मोटी कमाई के लिए किसान करे संतरे की खेती

किसान भाइयो हम आपकी जानकरी के लिए आपको बता दे की संतरा मार्केट में खूब बिकता है और इसकी डिमांड काफी अधिकत होती है अगर ऐसे में किसान संतरे की खेती करते है तो संतरे की खेती से किसान भारी मुनाफा कमा सकता है।

संतरे की उन्नत किस्मे

किसान भाइयो हम आपकी जानकरी के लिए आपको बता दे की भारत में संतरे की कई उन्नत किस्मे है जिसमे नागपुरी संतरा सबसे बेहतर माना जाता है वही इसके अलावा खासी संतरा, कुर्ग संतरा, पंजाब देसी, दार्जिलिंग संतरा व लाहौर लोकल आदि उन्नत किस्मो की खेती भी कई किसान करते है।

यह भी पढ़े:- एक बार लगाओ बार-बार कमाओ, सुपारी की खेती चमका देगी किस्मत, जानिए पूरी प्रोसेस

संतरे की खेती के लिए तापमान

किसान भाइयो हम आपको बता दे की संतरे की खेती करने के लिए 13 से 37 डिग्री सेल्सियस का तापमान होना चाहिए और इस खेती के लिए शुष्क जलवायु की जरूरत पड़ती है और वही हम आपको बता दे की संतरे के पौधों को ज्यादा पानी की जरूरत नहीं पड़ती है, अगर अच्छी बारिश हो और 50 से 53 प्रतिशत आर्द्रता हो तो पौधे अच्छी तरह विकसित होते है और अच्छा उत्पादन निकलता है।

संतरे की खेती के लिए मिट्टी

किसान भाइयो हम आपको बता दे की संतरे की खेती के लिए काली मिट्टी बेहतर मानी जाती है, पर किसानो को इस बात का खास ध्यान रखना होता है की खेत अच्छी जल निकासी वाला हो तो बेहतर होता है, और संतरे की खेती के लिए खेत में मिट्टी की गहराई 2 मीटर तक की होनी चाहिए, और मिट्टी का पीएच मान 4.5 से 7.5 तक होना चाहिए।

यह भी पढ़े:- किसानों की कमाई दुगुनी करवाएगी सफेद बैंगन की खेती, जानिए पूरी जानकारी

संतरे की खेती के लिए सही समय

किसान भाइयो हम आपकी जानकरी के लिए आपको बता दे की संतरे की खेती में अगर अच्छा उत्पादन कमाना है तो सही समय पर संतरे का पौधा रोपण करना बहुत जरुरी होता है, अन्यथा फसल ख़राब होने का खतरा होता है, वही हम आपको बता दे की संतरे के पौधारोपण का उपयुक्त समय गर्मी के महीने में जून-जुलाई तथा ठंड के समय में फरवरी से लेकर मार्च तक का महीना सबसे बेहतर माना जाता है।